ट्रेडिंग प्लेटफार्मों

गोल्ड अकाउंट

गोल्ड अकाउंट
मानक रोमिंग चालू खाता

नियमित चालू खाते

आईसीआईसीआई बैंक व्यापार बैंकिंग में आपके अपने नियमित व्यापार लेनदेनों के लिए चालू खाता उत्पादों की एक विस्तृत श्रृंखला मौजूद है। ये उत्पाद छोटे खुदरा विक्रेताओं, व्यापारियों, स्वरोजगार पेशेवरों और 2 करोड़ से कम के वार्षिक कारोबार वाले ऐसे अन्य व्यवसायों के लिए सबसे उपयुक्त हैं। आप ऐसा उत्पाद चुन सकते हैं जो आपके व्यवसाय की आवश्यकताओं के लिए सबसे अधिक उपयुक्त हो।

नए स्टार्टअप के लिए चालू खाता

स्टार्टअप उद्यमों के लिए चालू खाता जो पहले 6 महीनों के लिए शून्य मासिक औसत शेष (MAB) की आवश्यकता के साथ, खाते में बनाए रखे जाने वाले मासिक औसत शेष (MAB) के आधार पर लेन-देन पर मिलने वाले लाभ प्रदान करता है।

  • बनाए रखे मासिक औसत शेष (MAB) के 12 गुने तक देश में कहीं भी नि:शुल्क नकद जमा।
  • नि:शुल्क आरटीजीएस और एनईएफटी लेनदेन
  • प्रति माह 100 नि:शुल्क चेक
  • नि:शुल्क गोल्ड अकाउंट मोबाइल अलर्ट सुविधा

Gold Import Data : गोल्ड इंपोर्ट में 6.4 फीसदी इजाफा, अप्रैल-जुलाई में बढ़कर 13 अरब डॉलर तक पहुंचा

Gold Import Data : गोल्ड इंपोर्ट में 6.4 फीसदी इजाफा, अप्रैल-जुलाई में बढ़कर 13 अरब डॉलर तक पहुंचा

पिछले साल के मुकाबले इस साल अप्रैल-जुलाई में 6.5 फीसदी इजाफा

सोने की मांग में लगातार हो रही बढ़ोतरी के कारण चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-जुलाई के दौरान गोल्ड इंपोर्ट में तेजी से इजाफा हुआ है. सरकार की तरफ से जारी आकड़ों के मुताबिक अप्रैल-जुलाई के दौरान सोने का आयात 6.4 फीसदी बढ़कर 12.9 अरब डॉलर तक पहुंच गया. पिछले साल इसी अवधि में गोल्ड इंपोर्ट 12 अरब डॉलर पर था. सोने के आयात में हो रही इस बढ़ोतरी का देश के करेंट अकाउंट डेफिसिट (Current Account Deficit) पर भी बुरा असर पड़ता है.

क्या है करेंट अकाउंट डेफिसिट?

किसी देश को करेंट अकाउंट डेफिसिट या चालू खाते के घाटे की स्थिति का सामना तब करना पड़ता है, जब उस देश में इंपोर्ट की गई वस्तुओं और सेवाओं पर होने वाला कुल खर्च, उस देश द्वारा एक्सपोर्ट की गई वस्तुओं और सेवाओं से होने वाली कुल आय से अधिक हो जाता है.

Get Business News गोल्ड अकाउंट in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

प्रमुख FX युग्मों पर जीरो स्प्रेड सहित अधिक पाएं।

डेस्कटॉप, वेब या मोबाइल पर
MetaTrader 4 एवं MetaTrader 5

EUR/USD पर 0.1 से तंग स्‍प्रेड और तेज ट्रेड निष्पादन

लचीले लीवरेज और 0.01 लॉट से ट्रेड आकार 1:1 से 1:2000 तक

विशेषज्ञों से फ्री ट्रेडिंग शिक्षा और बाजार अंतर्दृष्टि

आज ही ट्रेडिंग शुरू करने के लिए अपना गोल्ड अकाउंट अकाउंट खोलें!

एडवांटेज अकाउंट: $500+ बैलेंस

प्रमुख FX युग्‍मों पर सामान्‍यतया जीरो स्‍प्रेड, प्रतिस्‍पर्धी कमीशन, हर दौर की पेशकश

एडवांटेज प्‍लस अकाउंट: $500+ बैलेंस

कोई कमीशन नहीं, सुपर टाइट स्‍प्रेड

माइक्रो अकाउंट: $500+ बैलेंस

टाईट स्‍प्रेड और कोई कमीशन नहीं, छोटे आकार के ट्रेड

प्रश्‍न?

हमसे चौबीसों घंटे संपर्क करें

अनेक न्यायालयों से लाइसेंस प्राप्‍त और विनियमित, दुनिया भर में हम 150 से अधिक देशों में
ग्राहकों को सर्व करते हैं। इन सभी क्षेत्रों में गोल्ड अकाउंट हम रिटेल ग्राहकों के लिए अलग-अलग फंड ऑफर करते हैं।

FXTM चुनने के और अधिक कारण

फ्री शैक्षिक संसाधनों से अपना कौशल विकसित करें

  • सेमिनार या वेबिनार में हमारे विशेषज्ञों के साथ शामिल हों
  • ऑनलाइन ट्रेडिंग पाठ्यक्रम में शामिल हों
  • ई-बुक्स और मार्केट आउटलुक डाउनलोड करें

अपनी ट्रेडिंग दक्षता अधिकतम करें

  • तंग स्‍प्रेड से ट्रेडिंग लागत कम करें (0.1 से EUR/USD)
  • लचीले लीवरेज से अधिक ट्रेडिंग पॉवर तक एक्‍सेस पाएं
  • सुपरफास्ट निष्पादन से पोजीशनों की सही योजना बनाएं

दुनिया का पसंदीदा प्लेटफॉर्म, MetaTrader चुनें

  • MetaTrader 4 या MetaTrader 5 की आपकी पसंद
  • डेस्कटॉप, मोबाइल या ब्राउज़र के माध्यम से उपलब्ध
  • आपके कार्यक्षेत्र के मानक दृश्य या कस्टमाइज़ करें

FXTM इनवेस्ट के साथ कॉपीट्रेड करें

  • कॉपी करने के लिए 5,000 से अधिक ट्रेडिंग स्‍ट्रेटजियां चुनें
  • कॉपीट्रेडिंग शुल्क का भुगतान केवल लाभदायक ट्रेडों पर करें
  • सिर्फ $100 से शुरु करें

बजट 2022ः गोल्ड सेविंग अकाउंट का हो सकता है एलान

रिटायरमेंट के बाद अगर गोल्ड अकाउंट आप सुकून की जिन्दगी बिताना चाहते हैं तो जरूरी है कि आप अपने भविष्य के बारे में सोचते हुए निवेश भी करते रहें। इसके लिए नेशनल पेंशन सिस्टम(NPS) से बेहतर कोई विकल्प नहीं है। NPS निवेश में उम्र सीमा 18-70 साल है. पहले उम्र सीमा 65 साल तक थी। 65-70 साल के भारतीय नागरिक, OCI निवेश कर सकते हैं। पेंशन फंड में एंट्री की उम्र सीमा 70 साल है।

सितंबर तिमाही अच्छी रही इक्विटी मार्केट के लिए

सितंबर तिमाही अच्छी रही इक्विटी मार्केट के लिए

भारतीय शेयर बाजार ने वित्त वर्ष 2023 की जुलाई-सितंबर तिमाही में उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया है। इस अवधि में कॉर्पोरेट इंडिया के मजबूत प्रदर्शन से बाजार को अच्छा सपोर्ट मिला है। ये कहना है मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के रिसर्च एंड इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज हेड गौतम दुग्गड़ का। उन्होंने यह बात एक मीडिया हाउस से बातचीत के दौरान कही है।

फर्टिलाइजर शेयरों में आई जबरदस्त तेजी

फर्टिलाइजर शेयरों में आई जबरदस्त तेजी

आज इंट्राडे कारोबार में राष्ट्रीय केमिकल्स एंड फर्टिलाइजर्स, नेशनल फर्टिलाइजर्स, गुजरात स्टेट फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल्स के शेयरों में पांच से 12 फीसद की तेजी देखने को मिल रही है। इसके पीछे कारण यह है कि मौजूदा समय में रबी फसलों की बुवाई का सीजन चल रहा है। इसी कारण से खाद कंपनियों के शेयरों की खरीदारी बढ़ रही है।

More than 1 Million users are using FlipItMoney to stay updated about the business and finance world! Join FlipItMoney now and take smart investment decisions!

गोल्ड ईटीएफ क्या है?

गोल्ड ईटीएफ एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) है जो वास्तविक गोल्ड की घरेलू कीमत से जुड़ा है। गोल्ड ईटीएफ के एक यूनिट की वैल्यू 1 ग्राम वास्तविक गोल्ड से जुड़ी है। स्टॉक की तरह, गोल्ड ईटीएफ को स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध किया गया है, जहां पर उन्हें डीमैट अकाउंट का इस्तेमाल करके खरीदा और बेचा जा सकता है। होल्डिंग और शुद्धता के आश्वासन के संबंध में पूर्ण पारदर्शिता के साथ, इलेक्ट्रॉनिक तरीके से गोल्ड में निवेश करने का यह एक आदर्श विकल्प है। अगर आप गोल्ड में निवेश करना चाहते हैं, तो गोल्ड ईटीएफ के जरिए ऐसा करने के पांच कारणों पर आपको विचार करना चाहिए।

गोल्ड ईटीएफ 99.5% शुद्धता से समर्थित होते हैं। गोल्ड ईटीएफ की एक यूनिट एक ग्राम वास्तविक गोल्ड की जारी कीमत के बराबर होती है। जब आप गोल्ड ईटीएफ की एक यूनिट को खरीदते हैं, तो कस्टोडियन द्वारा एक ग्राम वास्तविक गोल्ड खरीदा जाता है। भारत में गोल्ड ईटीएफ में कुल निवेश 20,000 करोड़ रूपये का है। जो कि पांच वर्ष पहले की तुलना में यह चार गुणा हो चुका है। यह अपवर्ड ट्रेंड इलेक्ट्रॉनिक गोल्ड निवेश के तौर पर गोल्ड ईटीएफ के बढ़ते प्रचार-प्रसार को दिखाता है।

निम्न लागत- निम्न जोखिम निवेश

जोखिम और लागत के संदर्भ में, गोल्ड ईटीएफ वास्तविक गोल्ड से बढ़कर है। गोल्ड ईटीएफ डीमैट अकाउंट के माध्यम से बेचे और खरीदे जाने वाला डिजिटल निवेश है। क्योंकि इन्हें इलेक्ट्रॉनिकली स्टोर किया जाता है, वास्तविक गोल्ड की तुलना में चोरी का जोखिम बहुत कम है। इसके अलावा, वास्तविक गोल्ड में निवेश करने की लागत उच्च है क्योंकि आभूषणों पर मेकिंग चार्ज लगाए जाते हैं। गोल्ड ईटीएफ के साथ इस प्रकार का कोई चार्ज नहीं जुड़ा है, इसलिए ये कम लागत पर निवेश का साधन हैं।

क्योंकि गोल्ड ईटीएफ को ऑनलाइन खरीदा जाता है और उन्हें डीमैट अकाउंट में धारित किया जाता है, किसी भी निवेशक द्वारा कभी भी इसे खरीदा और बेचा जा सकता है। इनसे उच्च लिक्विडिटी भी मिलती है क्योंकि स्टॉक एक्सचेंज में शेयरों की तरह इनकी भी वर्तमान गोल्ड कीमत गोल्ड अकाउंट पर ट्रेडिंग की जा सकती है।

टैक्स-अनुकूल

ईटीएफ के ज़रिए गोल्ड में निवेश पर वास्तविक गोल्ड निवेश की तरह सम्पदा कर नहीं लगाया जाता है। लेकिन, गोल्ड ईटीएफ से मिलने वाले रिटर्न, इंडेक्सेशन लाभ के साथ दीर्घकालिक पूंजी लाभ के अंतर्गत आते हैं। गोल्ड ईटीएफ के लिए दीर्घकालिक पूंजी कर होल्डिंग के 36 महीनों के बाद बेचे गए यूनिट्स पर मिलने वाले लाभ पर लगाया जाता है, और इस प्रकार ये टैक्स-अनुकूल निवेश (साधन) बन जाते हैं। अल्पकालिक पूंजी लाभ- तीन वर्ष की धारिता अवधि से पहले अर्जित लाभ पर, आपकी आय में इस लाभ को जमा करने के बाद, लागू स्लैब दर के अनुसार कर लगाया जाएगा।

गोल्ड ईटीएफ के कारण गोल्ड में निवेश करना अधिक आसान और अधिक अफॉर्डेबल बन गया है। निवेशक 1000 रूपये की निम्न राशि से एसआईपी के आधार पर गोल्ड ईटीएफ खरीद सकते हैं और समय के साथ एक बड़ा निवेश संचित कर सकते हैं। दूसरी तरफ, वास्तविक गोल्ड को केवल बड़े मौद्रिक निवेश के बाद ही खरीदा जा सकता है।

रेटिंग: 4.77
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 270
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *